तीन मुखी रुद्राक्ष

Posted on 23 Comments

तीन मुखी रुद्राक्ष को अग्नि देव का स्वरुप माना गया है | जिस प्रकार अग्नि स्वर्ण को भी शुद्ध कर देती है उसी प्रकार अग्नि का स्वरुप होने के कारण यह रुद्राक्ष शरीर को शुद्ध करने में सहायक होता है |

तीन मुखी रुद्राक्ष के लाभ

जिस व्यक्ति का मन किसी काम में ना लगता हो या जीवन जीने का आनन्द समाप्त हो चुका हो, शरीर किसी न किसी प्रकार के बुखार से पीड़ित रहता हो, भोजन खाने पर पेट की अग्नि मंद होने के कारण से भोजन के ना पचने के रोग में यह रुद्राक्ष अत्यधिक लाभदायक साबित होता है | अग्नि को तीव्र करके पाचक क्षमता बढ़ने से चेहरा पे तेज एवं शौर्य एवं बल की प्राप्ति कराता है | सभी प्रकार की आपदाओं से मुक्त कराने में तीन मुखी रुद्राक्ष अच्छा काम करता है | नौकरी करने वाले और पेट से सम्बंधित कष्ट पाने वालों के लिए यह रुद्राक्ष अत्यंत लाभदायक है | ग्रंथों के अनुसार तीन मुखी रुद्राक्ष धारण करने से नारी हत्या के पाप से भी मुक्ति मिलनी संभव हो सकती है |

तीन मुखी रुद्राक्ष

असली, शुद्ध एवं लैब प्रमाणित तीन मुखी रुद्राक्ष पेंडंट एवं माला मात्र ₹699/- से शरू

तीन मुखी रुद्राक्ष को धारण करने का मंत्र

वैसे तो तीन मुखी रुद्राक्ष को धारण करने का मंत्र “ॐ क्लीम नमः” है लेकिन तीन या पांच माला “ॐ नमः शिवाय” की जपने से यह रुद्राक्ष पूर्ण प्रभाव व्यक्ति को दिखाते हुए, शुद्ध एवं सात्विक करके एैश्वर्य की वृद्धि कराता है इसलिए हर जन को अग्नि देव के स्वरुप तीन मुखी रुद्राक्ष को धारण करके अपना कल्याण करना चाहिए |

Click 3 Mukhi Rudraksha to read this article in English.

Descriptions for products are taken from scripture, written and oral tradition. Products are not intended to diagnose, treat, cure, or prevent any disease or condition. We make no claim of supernatural effects. All items sold as curios only.

अगर आप तीन मुखी रुद्राक्ष से सम्बन्धित कोई भी जानकारी हमसे शेयर करना चाहते हैं तो कृपया नीचे दिए कमेन्ट बॉक्स में लिखें |

Share it on social media..

23 thoughts on “तीन मुखी रुद्राक्ष

  1. तीन मूखी रूद्राक्ष मुझे लेना

  2. Agar apka lagan vrashabh h, aur mangal negetive prqbhav de rha h to 3 mukhi pahan skte h.
    Otherwise apko 6 mukhi dharan krna chahiye…Jo apke lagnesh ko Bali krega.

  3. mujhe teen mukhi rudraksh kisi ne bola tha,

  4. bab jee mere liye koi upai bataye. for full protection

  5. 54 teen much I rudraksh kite k honge

  6. मुझे 3 मुखी रुद्राक्ष चाहिय।।
    अनिल गुप्ता
    600/113/2 एन नई फरीदी पुर
    निकट लखनऊ मॉडल स्कूल
    दुबग्गा लखनऊ।।
    9044474225

    1. Mil jayega

  7. Baba me jasubanta hun mera bischik rasi he mera job nehi lag rahee please konsa Rudrksha phene chaiye

  8. बाबा जी मेरा नाम विनय मिश्र है मैं तीन मुखी रुद्राक्ष पहन सकता हु की नही कृपया मार्ग दर्शन करै

  9. Muje 3 mukhi rudraks kaha se praapt hoga wo b original , please comment on my mail is
    Ankur sharma.s harma881@gmail.com

  10. Mujhe bhi chahiye tin mukhi rudraksh

  11. मेरा कोई भी काम नही बनता है और पैसा मेरे पास नही बचता है कृपया कौन सा रूद्राक्ष धारण करूंगा

  12. Meri rashi vruschick hai

  13. I am a Scorpio, can I wear a three-mukhi rudraksha? Which other rudrakshas can I wear?

  14. Mera nam Amrendra bihari singh hai mai apna baypar krta hon or kafi prsan hon mughay kisine kha ki aap tin mokhi rodrakhs ka dharn kro kya ye mery liye shi hai AGR hai to kha melega or kitny din me fayda dikhega mai aarthik roop she kafi presan hon is let mai jayda invest v nhi krskta hon kirpa kr ke rasta dikhaye ok

  15. MUJHE KAUNSA RUDRAKSH CHALEGA MERA KOI KAM NAHI BANTA PET OUR HEART KI TAKLIF HAI.

  16. Meri kumbo. Rashi ha

  17. Babaji vrasabh rashi ke log bhi teenmukhi rudraksha pehan sakte h.or ise kis samaye dharan kar sakte h.or kis dhatu me.

  18. Babaji vrasabh rashi ke log bhi teenmukhi rudraksha pehan sakte h. Or ise kis samaye pehnna h. Or kis dhatu me pehnna hai.

  19. Guru ji
    Teen mukhi ko lash Payne day$night ko

  20. Guru ji

    Maine baba ji se teen mukhi rudraksh liya tha jo ki lete bakt maine bhi dhyan nahi diya wo thoda khandit tha yane uska bhich main se jo ubhra hua bhag hota hai wo toota hua tha jo mujhe baba ji ne diya hai, So kripya karke batayen kya main ese dharan karoon ya nahi

    1. Shiv ka Nam Lekar Dharan karo.

      Khandit shiv Murty bhi puja yogy Hoti hi.

      Hari Om…

  21. pahchan, prayog, aur bidhi

Leave a Reply

Your email address will not be published.