सात मुखी रुद्राक्ष

Posted by Acharya Anil Johri on November 05, 2014  /   Posted in Rudraksha

सात मुखी रुद्राक्ष को माँ लक्ष्मी की कृपा से भरपूर माना गया है | कामदेव का स्वरुप पाने वाला यह रुद्राक्ष अनन्त नाम से जाना गया है | महाशिवपुराण के अनुसार स्वर्ण आदि धातुओं की चोरी या बेईमानी करने के पाप से मुक्ति प्रदान करने में यह रुद्राक्ष सहायक माना गया है |

सात मुखी रुद्राक्ष के लाभ

एैसे मनुष्य जिनका भाग्य उनका साथ नहीं देता और नौकरी या व्यापार में अधिक लाभ नहीं होता एैसे जातकों को सात मुखी रुद्राक्ष अवश्य धारण करना चाहिए क्योंकि इसके धारण से धन का अभाव व् दरिद्रता दूर होकर व्यक्ति को धन, सम्पदा, यश, कीर्ति एवं मान सम्मान की भी प्राप्ति होती है चूँकि इस रुद्राक्ष पर लक्ष्मी जी की कृपा मानी गई है और लक्ष्मी जी के साथ गणेश भगवान की भी पूजा का विधान है इसलिए इस रुद्राक्ष को गणपति के स्वरुप आठ मुखी रुद्राक्ष के साथ धारण करने से विशेष लाभ प्राप्त होता है | ग्रन्थों के अनुसार सात मुखी रुद्राक्ष पर शनि देव का प्रभाव माना गया है इसलिए जो व्यक्ति मानसिक रूप से परेशान हों या जोड़ो के दर्द से परेशान हों उनके लिए शनि देव की कृपा प्राप्त होने के कारण से यह रुद्राक्ष लाभदायक हो सकता है | सात मुखी होने के कारण से शरीर में सप्त धातुओं की रक्षा करता है और शरीर के मेटाबोलिज्म को दुरुस्त करता है |

सात मुखी रुद्राक्ष को धारण करने का मंत्र

सात मुखी रुद्राक्ष को धारण करने का मंत्र “ॐ हूँ नमः” है | इस रुद्राक्ष को धारण के पश्चात इसी मंत्र की तीन या पांच माला रोज़ अगर जाप किया जाए तो इस रुद्राक्ष की क्षमता कई सो गुना बढ़ जाती है और धारक को धन एवं यश की प्राप्ति होती है अतः हर नौकरी या व्यवसाय करने वाले मनुष्य को सात मुखी रुद्राक्ष अवश्य धारण करना चाहिए |

To read this article in English, please click 7 Mukhi Rudraksha


*Descriptions for products are taken from scripture, written and oral tradition. Products are not intended to diagnose, treat, cure, or prevent any disease or condition. We make no claim of supernatural effects. All items sold as curios only.

अगर आप सात मुखी रुद्राक्ष से सम्बन्धित कोई भी जानकारी हमसे शेयर करना चाहते हैं तो कृपया नीचे दिए कमेन्ट बॉक्स में लिखें |

The following two tabs change content below.

Acharya Anil Johri

Astrologer & Gem Therepist at Rudra Gems
World renowned Astrologer and Gem Therapist. I don't guide people for money only, Astrology is a vast science and I want to use it for the welfare of whole mankind.

About Acharya Anil Johri

World renowned Astrologer and Gem Therapist. I don't guide people for money only, Astrology is a vast science and I want to use it for the welfare of whole mankind.

11 Comments

  1. Ashok Dhakate April 20, 2015 4:59 pm / Reply

    price of seven mukhi rudrakshha .

  2. dev dutt dubey May 15, 2015 5:47 pm / Reply

    Res.I want original 7mukhi rudraksh certified.( o

  3. रमेश June 22, 2016 5:14 pm / Reply

    सात मुखि रुद्राक्ष को दारण करने की विधि बथैएन ?
    रुद्राक्ष को किस धागे पे पेरोया जाएँ ?
    रुद्राक्ष के पूजा विधि ?
    पूजा समाज ?
    अधिक जानकारी दें ?

  4. sanjay srivastava August 14, 2016 11:59 am / Reply

    सात मुखी का आर्डर 25 july 2016 को दिया था अभी तक आया नही। order no. 8570

  5. Sanjay Sharmaa October 5, 2016 8:16 pm / Reply

    Kya एक मुखी Rudrash के साथ सात और आठ मुखी Rudraksh धारण कर सकते है क्या बताये कृप्या

  6. upendra singh November 5, 2016 9:51 pm / Reply

    Dear. Sir. me mehnat to bahut Karta Hu par fhal kam milta he te.

  7. Kshetrapal Singh Parihar February 10, 2017 10:19 am / Reply

    7 mukhi rudraksh kitne ka hai

  8. sagar doifode March 19, 2017 8:15 pm / Reply

    सात मुखि रुद्राक्ष को दारण करने की विधि बताए ?
    रुद्राक्ष को किस धागे पे पेरोया जाएँ ?
    रुद्राक्ष के पूजा विधि ?
    पूजा समान ?

  9. Rajesh srivastav April 13, 2017 10:06 pm / Reply

    Rudrash kis rang ke daage me piro kar pahanna chahiye

Post a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*