Posted on

पांच मुखी रुद्राक्ष

कालाग्नि रूद्र के रूप में पांच मुखी रुद्राक्ष को इस ब्रह्माण्ड में स्थापित किया गया है | पञ्च देवों की कृपा से परिपूर्ण यह रुद्राक्ष पञ्च तत्वों के दोषों का नाश करने में सहायक होता है | शिव के उपासकों को पांच मुखी रुद्राक्ष की माला अवश्य धारण करनी चाहिए | पञ्च देवों की कृपा होने के कारण से यह माला भगवान शिव को अत्यंत प्रिय है |

पांच मुखी रुद्राक्ष के लाभ

मन के रोगों को दूर करके मानसिक तौर पर स्वस्थ करने में यह रुद्राक्ष अति उत्तम फल प्रदान करता है | बढती आयु में जब समृधि का नाश होने लगता है और व्यक्ति अपने अर्जित ज्ञान को भूलने लगता है उस समय पांच मुखी रुद्राक्ष की माला को धारण करने मात्र से सभी परेशानियों में सफलता मिलनी प्रारंभ हो जाती है | महाशिवपुराण में तो अकाल मृत्यु से बचने के लिए इस माला पर महामृत्युंजय मंत्र का पाठ करने से अल्प मृत्यु से बचा जा सकता है | गलत जगहों पर जाने और गलत भोजन करने से प्राप्त हुए पापों को भी यह रुद्राक्ष माला कम करती है | इसका धारक भगवान शिव के गुण एवं धर्मों को प्राप्त कर सकता है | ब्रहस्पति देव पांच मुखी रुद्राक्ष का प्रतिनिधित्व करते हैं इसलिए इसको धारण करने से ब्रहस्पति देव की कृपा भी प्राप्त होती है | नौकरी व्यवसाय में सफलता व् गृहस्थ सुख में भगवान ब्रहस्पति की कृपा से इस माला को धारण करने पर यह सभी लाभ प्राप्त किए जा सकते हैं |

पांच मुखी रुद्राक्ष को धारण करने का मंत्र

यह अकेला रुद्राक्ष एैसा है जिसपे भगवान शिव के साथ भगवान विष्णु, भगवान गणेश, सूर्य भगवान व् शक्ति की प्रतीक माँ भगवती की असीम कृपा होती है इसलिए पांच मुखी रुद्राक्ष के कम से कम तीन दाने या पांच दाने या 108 दाने की माला अवश्य धारण करनी चाहिए |

To read this article in English, please click 5 Mukhi Rudraksha


*Descriptions for products are taken from scripture, written and oral tradition. Products are not intended to diagnose, treat, cure, or prevent any disease or condition. We make no claim of supernatural effects. All items sold as curios only.

अगर आप पांच मुखी रुद्राक्ष से सम्बन्धित कोई भी जानकारी हमसे शेयर करना चाहते हैं तो कृपया नीचे दिए कमेन्ट बॉक्स में लिखें |

25 thoughts on “पांच मुखी रुद्राक्ष

  1. Kisi dusare insan ka 5 mukhi rudraksh hum rak ya pehen sakte hai kya.

    Kya hum ise supari ke saat rakh sakte hai kya..

    1. 5 मुखी रूद्राक्ष कुंभ राशि वाले जातक को धारण करना चाहिए या नहीं

  2. नमस्ते आचार्य जी पंच मुखी रुद्राछ कितने में आता है क्या हम इसे मगा सकते है असली

    1. Sabhi logg samje rudraksha koi be pehan skata hai ..koi bhi rudraksha gallat parbhav nhi dalta agar aap usska jab or rahe ho… 5 mukhi sabse safe manna jata hai hard koi essay dharankar sakta hai…..

  3. असली रूद्राक्च की पहचान कैसे करे

    1. Copper coin se aap isse test kar sakte hai ..ek copper coin lens uske madhe mai rudraksha rakhe uske uppar dosra coin rakhi agar clock wise gumme tow achha hai

  4. Sir mere paas 5 mukhi rudraks ek hai kya main ek rudraks pehan sakta hon kya..

  5. क्या एक पंचमुखी रुद्राक्ष को रेशम के काले धागे में गूथ कर धारण कर सकते है।

    1. क्या एक पंचमुखी रुद्राक्ष को रेशम के काले धागे में गूथ कर धारण कर सकते है।
      असली रूद्राक्च की पहचान कैसे करे

  6. आचार्य जी 5 मुखी रूद्राक्ष कितने धारण करने चाहिए और असली रूद्राक्ष कितने रूपये का मिलता है

    1. पंच मुखि रुद्रा क्ष का क़ीमत क्या होती है यह हमे चाहिए कृपया हमारी मदद और मार्ग दर्शन करें

  7. मेरीराशिमीनहे१४/६/१९९५

  8. Mi yah Janna chaheta hu ke panch mukhi rudraksh kis rasi wale k leye jyada fayeda hota hi

  9. पाच मूखी रुद्रराछ असली चाहिए कितने रूपये मे मिलेगा

  10. असली रुद्रराछ कितने का आता है पाच मूखी

  11. Kya patch mukhi rudraksh sani ke dish pane wale pan skate hai

  12. Me ye janna chahta hu ager bich me 2mukhi or 5mukhi ke do rudraksh pahne jae to kya phal milta h .

  13. Mujhe aaj dharn kare h plz jaldi bataiye

  14. EK RUDRAKS BHI PHAN SAKATE HAI.

  15. Ek Rudraksh Dharan Kiya Jaa sakta hai ? agar ha to kaise aur kisme?

  16. ५ मुखी १ हि है। क्या करु

  17. Agar 5 mukhi or 6 mukhi ka 1 -1 rudrakch phna jaye ga to koi dikat ya kharabi to nahi na ha ya hai please reply me.

  18. रुद्राक्ष का एक दाना पहनने से क्या लाभ

  19. Kya panchmukhi rudraksh ke sath satmukhi rudrakh pehna ja sakta hai

  20. 5 मुखी असली रुदाक्ष कहा मिले गा और कितने तक मिल जाएगा
    कृपया हमें बताने की कृपा करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *